दिल्ली में आज 400 पंप बंद रहेंगे; ओडिशा ऐसा पहला राज्य जहां पेट्रोल से महंगा डीजल

अहमदाबाद.  अहमदाबाद के प्रोफेसर एन सत्यनारायण एग्जाम में छात्रों को होने वाली मुश्किलों को जानने के लिए खुद पिछले तीन साल से क्लेट (कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट) की परीक्षा दे रहे हैं। वह प्रश्न हल करते वक्त आने वाली परेशानियों को पता लगाकर अपने छात्रों को उनसे निपटने की टिप्स देते हैं। प्रोफेसर फिलहाल 800 छात्रों को क्लेट की तैयारी करवा रहे हैं

2015 से पहले क्लेट की परीक्षा देने के लिए आयु सीमा निर्धारित थी, लेकिन इसके बाद सरकार ने इसे हटा लिया। प्रोफेसर तीन साल से क्लेट में ऑल इंडिया टॉप-500 में स्थान भी हासिल कर रहे हैं। परीक्षा के दौरान छात्रों से हुई गलतियों को नए बैच के छात्र न दोहराएं इसके लिए भी खास टिप्स देते हैं

परीक्षा देने से मुझे बहुत कुछ समझ आया : एन सत्यनारायण ने बताया, "परीक्षा के दौरान छात्र किन बातों का ध्यान रखें, यह सभी समझाते हैं, लेकिन अगर प्रश्नपत्र में मुश्किल सवाल पूछा जाए या फिर एकदम सरल प्रश्नपत्र मिले तब क्या करना चाहिए, इसे कोई नहीं बताता। परीक्षा में निर्धारित समय में प्रश्नपत्र हल करने के प्रेशर में छात्र कौन सी गलतियां करते हैं? परीक्षा देने से यह मुझे समझ में आया है।" उन्होंने बताया कि भविष्य के छात्र ऐसी गलतियां न करें, इसके लिए मैं अपने अनुभव से उन्हें समझाता हूं। मैं परीक्षा में जीके के प्रश्नों का उत्तर नहीं लिखता। इसके बावजूद ऑल इंडिया के रैंक में टॉप-500 में शामिल होता हूं।

तनाव के बिना परीक्षा देनी चाहिए

प्रोफेसर एन सत्यनारायण ने कहा कि मैं हर साल परिणाम की चिंता किए बगैर परीक्षा देता हूं। इससे मुझे अच्छा परिणाम मिलता है। मैं छात्रों को यही बात समझाता हूं। तनाव के बगैर परीक्षा दें, तो जरूर अच्छा परिणाम आएगा। आपकी चिंता और डर का असर परीक्षा पर पड़ता है। सत्यनारायण ने बताया कि ऑनलाइन परीक्षा में छात्रों को पहले सभी प्रश्नों को समझ लेना चाहिए। कम समय में ज्यादा स्कोर हासिल हो उस सेक्शन से पेपर शुरू करें। टफ सेक्शन को छोड़ इजी सेक्शन के उत्तर लिखें, इसके बाद बाकीं सेक्शन का उत्तर दें।

सीबीआई की इस कार्रवाई से डायरेक्टर आलोक वर्मा और अस्थाना आमने-सामने आ गए हैं। इससे पहले अस्थाना ने आलोक वर्मा पर लालू यादव और उनके परिवार के खिलाफ चल रहे रेलवे कैटरिंग भ्रष्टाचार मामले में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया था।

हालांकि, सीबीआई ने अस्थाना के आरोपों से इनकार कर दिया था। एजेंसी ने कहा था- अस्थाना के खिलाफ आधे दर्जन से ज्यादा मामलों में जांच चल रही है। अस्थाना अपने ऊपर लगे आरोपों की जांच करने वाले अफसरों को डराने की कोशिश कर रहे हैं।

Comments